adch

ads-vi

सोमवार, 20 नवंबर 2017

'/>

आरकॉम ने दूसरी कम्पनियों को भेजा नोटिस लगाया गलतफहमी फ़ैलाने का आरोप Rcom Given Notice To Other Companies For Spreading Rumors Against Company

Rcom Given Notice To Other Companies For Spreading Rumors Against Company
रिलायंस कम्युनिकेशंस (आरकॉम) की इंटरप्राइजेज सेवा इकाई ने अपनी प्रतिस्पर्धी कंपनियों पर उसके खिलाफ गलत जानकारी फ़ैलाने का आरोप लगाते हुए नोटिस भेजे हैं. कंपनी का आरोप है अन्य मोबाइल कम्पनिया एक  अभियान के तहत यह प्रचार कर रही हैं कि कारोबारी ग्राहकों के लिए उसकी वॉयस सेवा ख़त्म होने  वाली है. आरकॉम की इकाई आरकॉम ग्लोबल क्लाउड एक्सचेंज (जीसीएक्स) ने शुक्रवार (17 नवंबर) को ये बताया  उसने कुछ टेलीकॉम कम्पनिओं को गलतफहमी  के अभियान को रोकने व इससे दूर रहने के लिए उन्हें नोटिस भेजे हैं ।

rcom  कंपनी ने पाया कि कुछ टेलीकॉम कम्पनिया  यह अफवाह फैला रहे हैं रिलायंस इंटरप्राइज वॉयस सेवा जल्द ही बंद हो जाएगी. कंपनी के अनुसार यह ‘गलत व भ्रमित’ अभियान है. आरकॉम-जीएसीएक्स के अनुसार मामले की गंभीरता को देखते हुए उसने इस मुद्दे को पहले ही सम्बद्ध विधि व नियामकीय प्राधिकारों के समक्ष उठाया है. आरकॉम ने हाल ही में घोषणा की थी कि वह अपने नेटवर्क पर खुदरा ग्राहकों के लिए वायस सेवा बंद कर रही है. कंपनी हाालंकि अपने डेटा सेवा जारी रखेगी.
वहीं दूरसंचार नियामक ट्राई ने शुक्रवार (17 नवंबर) को रिलायंस कम्युनिकेशंस आरकॉम से साफ शब्द में कह दिया है  कि वह अपने ग्राहकों का ब्यौरा तत्काल दाखिल करे. इसके साथ ही कंपनी से प्रीपैड ग्राहकों के खाते में बची राशि की जानकारी 10 जनवरी तक देने को कहा है. ट्राई ने इस बारे में आरकॉम को निर्देश दिया है.
इसके तहत कंपनी को एमएनपी सुविधा लेने वाले अपने ग्राहकों तथा बाकी बचे ग्राहकों का ब्यौरा देना होगा. उसे यह भी बताना होगा कि उसके प्रीपैड ग्राहकों के खातों में  कितनी राशि बाकी है. नियामक ने कंपनी से कहा है कि वह अपने प्रीपैड व पोस्टपैड ग्राहकों का ब्यौरा तत्काल उपलब्ध करवाए. आरकॉम अपनी वायस कॉल सेवा एक दिसंबर से बंद कर रही है.

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Ads1-ad

Technical Life Style

अमेरिका की एक बैंक एचएसबीसी ने न्यूयॉर्क स्थित फ्लैगशिप पर रोबोट को तैनात कर दिया इस रोबोट का नाम पेपर है यह रोबोट बैंक में आने वाले...