adch

ads-vi

बुधवार, 15 नवंबर 2017

'/>

Google ने प्ले स्टोर से हटा दी है इंडिया की सबसे पॉपुलर ऍप, अब क्या करेंगे आप

सर्च इंजन गूगल (google) ने प्ले स्टोर (play store) से एक पॉपुलर एप को रिमूव कर  दिया है. गूगल के इस फैसले के बाद  आपको परेशानी हो सकती है. दरअसल गूगल ने UC Browser को अपने प्ले स्टोर से रिमूव कर दिया है. एक रिपोर्ट के अनुसार  यूसी (UC) भारत का  छठा सबसे ज्यादा डाउनलोड किया जाने वाला एंड्रायड एप है. इस एंड्रायड एप ने पिछले हफ्ते गूगल पर 50 करोड़ डाउनलोड का आंकड़ा पूरा किया है. गौरतलब है कि यूसी ब्राउजर चीन की चर्चित कंपनी अलीबाबा का ब्राउजर है जो कि इंटरनेट यूज करने के काम आता है.



जबकि UC browser mini प्ले स्टोर पर अभी भी उपलब्ध है, इसको गूगल की तरफ से हटाया नहीं गया है. मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक गूगल ने मिस लीडिंग प्रमोशन के कारण प्लेस्टोर से यूसी ब्राउजर को हटाया है. कुछ रिपोर्टस में यह भी कहा जा रहा है कि यूसी ब्राउजर को गूगल प्ले से 30 दिन के लिए टेंपरेरी तौर पर हटाया गया है. इसे कुछ दिन बाद फिर से रीस्टोर कर दिया जाएगा

ये भी पढ़े :गूगल ने लांच की नई एप्लिकेशन FilesGo इसको इस्तेमालकरेंगे तो  Shareit  भूल जायेंगे
गौरतलब है कि अगस्त में भी भारतीय यूजर्स के मोबाइल डाटा को लीक करने के मामले में सरकार UC ब्राउजर की जांच के आदेश दिए थे. इस संबंध में IT मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा था कि यूसी ब्राउजर के खिलाफ ऐसी शिकायतें हैं कि यह भारतीय यूजर्स का मोबाइल डाटा चीन में रखे सर्वर को भेजता है. ऐसी भी शिकायतें थी कि अगर यूजर इसे अनइंस्टाल कर देता है या ब्राउजिंग डाटा मिटा देता है तो भी यूजर के डिवाइस के DNS पर इसका कंट्रोल रहता है.

यदि यूसी ब्राउजर पर लगे आरोपों की पुष्टि हो जाती है तो देश में इसको प्रतिबंधित किया जा सकता है. आपको बात दें कि यूसी ब्राउजर अलीबाबा के मोबाइल कारोबार ग्रुप का हिस्सा है. अलीबाबा ने भारत में paytm में काफी बड़ा निवेश किया है. इसके अलावा उसने स्नैपडील में भी बड़ा पैसा लगाया है. यूसी ब्राउजर ने पिछले साल दावा किया था कि भारत और इंडोनेशिया में उसके 10 करोड़ से ज़्यादा मंथली एक्टिव यूजर्स हैं.


कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

Ads1-ad

Technical Life Style

अमेरिका की एक बैंक एचएसबीसी ने न्यूयॉर्क स्थित फ्लैगशिप पर रोबोट को तैनात कर दिया इस रोबोट का नाम पेपर है यह रोबोट बैंक में आने वाले...